Connect with us

मनोरंजन

Exclusive: झारखंड के फिल्ममेकर कर रहे बॉलीवुड-साउथ की नकल, अपनी संस्कृति को भूले: नंदलाल नायक

Published

on

झारखंड के स्थापना दिवस से पहले हम आपको प्रदेश के जाने-माने डायरेक्टर और म्यूजिक कंपोजर हैं नंदलाल नायक से मिलवाने जा रहे हैं. इस वक्त वे बड़े बजट की एक फिल्म पर काम कर रहे हैं. खासे व्यस्त हैं. इस फिल्म की शूटिंग देश के कई लोकेशंस पर होने वाली है. सच्ची घटना पर आधारित इस फिल्म में 2,200 लोगों ने काम किया है. नंदलाल नायक ने इस फिल्म के इसके बारे में ज्यादा जानकारी साझा नहीं की है. झारखंड की स्थापना के 22 साल में प्रदेश में कला और संस्कृति के क्षेत्र में क्या बदलाव हुए हैं या किस तरह के बदलाव की जरूरत है, उस पर श्री नायक ने प्रभात खबर के साथ लंबी बातचीत की.

झारखंड की असली खूबसूरती को सामने ही नहीं ला पाये

नंदलाल नायक पिछले कई सालों से झॉलीवुड से जुड़े हुए हैं. उनका कहना है कि हमारे सिनेमा में कभी हम झारखंड की असली खूबसूरती को सामने ही नहीं ला पाये. हम नकल कर रहे हैं. हवा जिस ओर चली, हम भी उसी ओर बढ़ते जा रहे हैं. हम खुद नहीं जानते कि हम कब अपनी जड़ों से दूर होते चले गये. हमारे पास कोई मॉडल भी तो नहीं है, जिसके अनुसार हम चल सकें. हम साउथ सिनेमा की बात करते हैं. उनकी फिल्मों में माई-माटी और भाषा है. वो उसे बरकरार रखते हैं. हम साउथ की नकल कर रहे हैं, बॉलीवुड की नकल कर रहे हैं.

संस्कृति का जमकर बखान करते हैं

उन्होंने आगे कहा, ‘दक्षिण की फिल्मों से या बॉलीवुड की फिल्मों से हम बहुत कुछ सीख सकते हैं. लेकिन, हम सीख नहीं रहे. उसका अंधानुकरण कर रहे हैं. दक्षिण की फिल्मों में देखेंगे कि वे अपनी सभ्यता और संस्कृति का जमकर बखान करते हैं. उस पर गौरव महसूस करते हैं. दूसरी तरफ, हम उनकी देखादेखी तो करते हैं, लेकिन अपनी संस्कृति को उस मजबूती के साथ फिल्मों में पेश नहीं करते, जिस पर हमें गर्व हो सके. हम अपनी संस्कृति को बस छूकर निकल जाते हैं.’

पलायन बढ़ेगा, तो लोग संस्कृति से दूर होंगे ही

यह पूछने पर कि इसमें गलती किसकी है, नंदलाल नायक कहते हैं कि इसमें किसी की गलती नहीं है. हमारे युवाओं को इसके बारे में ज्यादा जानकारी ही नहीं है. राज्य से लोग पलायन कर रहे हैं, तो वे संस्कृति से तो दूर जायेंगे ही. जब वे अपनी जड़ों से दूर चले जायेंगे, जहां वे रहेंगे, वहां की संस्कृति में रच-बस जायेंगे, तो फिर वे अपनी संस्कृति के बारे में किसी को कैसे बता पायेंगे?

कैसे बदलाव लाया जा सकता है

नंदलाल नायक कहते हैं कि सिनेमा के जरिये हमें अपनी पहचान को सामने लाना होगा. हमें खुद से प्यार करना होगा. अपने लोगों से प्यार करना होगा. हमारी संस्कृति की समृद्ध विरासत को सामने लाना होगा. उससे नयी पीढ़ी की पहचान करानी होगी. किसी की नकल करने की जरूरत नहीं है. हमें खुद को साबित करने की भी जरूरत नहीं है. नागपुरी में सुबह से शाम तक कई तरह की राग-रागिनी है, लेकिन ‘धक चिक धक चिक’ और ‘डुबक डुबा’ में हम अपनी राग-रागिनी को भूलते जा रहे हैं. ओरिजनल म्युजिक तो सामने आ ही नहीं पा रही है. यहां ‘डुबक डुबा’ के अलावा कुछ नहीं दिखता. हमारे पूर्वजों ने इसे संभाल कर रखा है. युवा पीढ़ी को इस बारे में बताने की जिम्मेदारी हमारी है.

सरकार के पास कोई जादू की छड़ी नहीं

सिनेमा में सरकार के योगदान के बारे में पूछने पर नंदलाल नायक स्पष्ट शब्दों में कहते हैं कि सरकार के पास कोई जादू की छड़ी नहीं है. संस्कृति को बचाने की जिम्मेदारी हमारी है. राज्य के नागरिकों की है. कलाकारों की है. हमलोगों को सामने आना होगा. किसी को रेडिमेड कुछ नहीं मिलता. अगर हम सरकार से कोई मदद चाहते हैं, तो इसके लिए भी हमें कड़ी मेहनत करनी होगी. फिर हमें कुछ मिलता है, तो वो बोनस होगा. हमारी युवा पीढ़ी जिस तरह से स्मार्ट एजुकेशन ले रहे हैं, वैसे ही अपने अस्तित्व को भी संभालकर रखना होगा. किसी से उम्मीद नहीं करना है कि कौन क्या करेगा.

Continue Reading
Advertisement

मनोरंजन

नाटू-नाटू को आंध्र प्रदेश CM ने दी बधाई, तो इस बात पर नाराज हुए अदनान सामी, जानें पूरा मामला

तो इस बात पर नाराज हुए अदनान सामी

Published

on

एसएस राजामौली (SS Rajamouli) की फिल्म आरआरआर (RRR) ने बॉक्स ऑफिस पर धूम मचा दिया. फिल्म के ‘नाटू नाटू’ गाने ने गोल्डन ग्लोब पुरस्कार जीता और इस जीत पर हर कोई बधाई दे रहा है. आंध्र प्रदेश के सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने पूरे टीम को बधाई दी, लेकिन उनके ट्वीट पर सिंगर अदनानी सामी (Adnan Sami) नाराज हो गए. अदनान के इस ट्वीट पर स्वास्थ्य मंत्री रजनी ने इसका जवाब दिया.

जानें क्या है मामला

मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने ‘नाटू-नाटू’ गाने को लेकर ट्वीट कर लिखा था, तेलुगु झंडा ऊंचा उड़ रहा है! मैं पूरे आंध्रप्रदेश की ओर से बधाई देता हूं. एमएम कीरावानी, एसएस राजामौली, जूनियर एनटीआर, राम चरण और आरआरआर को बधाई दे रहा हूं. हमें आप पर गर्व है! इस ट्वीट पर सिंगर अदनान सामी ने जवाब देते हुए लिखा, तेलुगु झंडा? आपका मतलब भारतीय ध्वज? हम पहले भारतीय हैं और इसलिए कृपया देश के बाकी हिस्सों से खुद को अलग करना बंद करें…खासकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर, हम एक देश हैं! यह ‘अलगाववादी’ एटीट्यूड बेहद अच्छा नहीं है जैसा कि हमने 1947 में देखा था!!! धन्यवाद…जय हिंद.

स्वास्थ्य मंत्री रजनी ने अदनान के ट्वीट का दिया जवाब

अदनान सामी का ये ट्वीट सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ है. जिसके बाद स्वास्थ्य मंत्री रजनी ने जवाब देते हुए लिखा, “ट्विटर पर ज्यादा सोचने के बजाय, शायद आपको भारत को एक और गोल्डन ग्लोब दिलाने की दिशा में काम करना चाहिए.” वहीं, वाईएसआरसी के एक प्रवक्ता एस राजीव कृष्ण ने कहा सीएम ने ये ट्वीट खुशी में किया था क्योंकि आरआरआर फिल्म से जुड़े कई लोग तेलुगु हैं. राजीव कृष्ण ने ट्वीट किया, “भारत के लिए हमारे प्यार को सबसे ऊपर नहीं रोकता है- आपको हमें देशभक्ति सिखाने की जरूरत नहीं है.”

अब अदनान ने कही ये बात

जिसके बाद अदनान सामी ने एस राजीव कृष्ण के ट्वीट का जवाब देते हुए लिखा, मुझे यकीन है कि आप ‘देशभक्ति’ को जानते हैं, इसलिए इसमें किसी पाठ की आवश्यकता नहीं है, लेकिन जाहिर है कि आपको ‘स्टेट्समैनशिप’ में पाठ की आवश्यकता है!

Continue Reading

मनोरंजन

National Youth Day 2023: बॉलीवुड की टॉप 5 फिल्में, जिसने युवाओं को किया इम्प्रेस, आप भी ना करें मिस, LIST

Happy National Youth Day 2023

Published

on

Happy National Youth Day 2023

आमिर खान, सोहा अली खान, कुणाल कपूर और आर. माधवन स्टारर फिल्म रंग दे बसंती आज भी बॉलीवुड की बेहतरीन फिल्मों में से एक मानी जाती है. फिल्म ने युवाओं को खासा इम्प्रेस किया है.

Happy National Youth Day 2023

बॉलीवुड एक्टर रणबीर कपूर और कोंकणा सेन शर्मा की ये फिल्म युवाओं को एक संदेश देती है. इसकी कहानी, गाने सब कुछ दर्शकों को काफी पसन्द आया था. फिल्म का निर्देशन फिल्म निर्माता अयान मुखर्जी ने किया था.

Happy National Youth Day 2023

ऋतिक रोशन, फरहान अख्तर और अभय देओल की फिल्म जिंदगी ना मिलेगी दोबारा तीन दोस्तों की कहानी है, जो स्पेन में बैचलर ट्रिप पर जाते है. इस यात्रा के दौरान वो तीनों खुद को खोजते है. इसकी कहानी फिल्म के जरिए बहुत ही खूबसूरती से कही गई है.

Happy National Youth Day 2023

जाने तू या जाने ना फिल्म से आमिर खान के भांजे इमरान खान ने डेब्यू किया था. फिल्म में जेनेलिया डिसूजा भी थी औऱ मूवी युवाओं का खासा पसन्द आई थी. फिल्म दोस्ती और मॉडर्न लव स्टोरी पर बेस्ड है.

Happy National Youth Day 2023

फिल्म छिछोरे की कहानी बहुत ही साधारण है, लेकिन इसे दिखाया बहुत ही खूबसूरती से गया है. इस प्रतिस्पर्धी दुनिया में असफलता का दबाव कई युवा झेल नहीं पाते और अपनी जान लेने की कोशिश करते है. ऐसे में ये मूवी कहानी के जरिए एक संदेश भी देती है.

Continue Reading

मनोरंजन

20 दिन-43 रीटेक्स…110 डांस मूव्स ट्राई करने के बाद बना ब्लॉकबस्टर सॉन्ग 'नाटु-नाटु',जानें इसके पीछे की कहानी

ब्लॉकबस्टर सॉन्ग ‘नाटु-नाटु’

Published

on

Naato Naato Song: गोल्डन ग्लोब अवार्ड्स 2023 में ‘आरआरआर’ फिल्म के फेमस सॉन्ग नाटू-नाटू ने इंडियन सिनेमा में एक सुनहरा पंख जोड़ दिया है. जी हां इस ब्लॉकबस्टर फिल्म ने गोल्डन ग्लोब अवार्ड्स 2023 में बेस्ट ओरिजनल सॉन्ग का पुरस्कार जीता है. यह टीम के लिए ऐतिहासिक जीत है. इस गाने को साउथ स्टार जूनियर एनटीआर और राम चरण ने काफी एनर्जी के साथ परफॉर्म किया है. आज हम गाने के पीछे की स्टोरी आपको बताएंगे.

अवॉर्ड पाकर काफी खुश हूं

गोल्डन अवॉर्ड्स में आरआरआर की टीम स्टाइलिश अंदाज में रेड कार्पेट पर पहुंची. निर्देशक एसएस राजामौली, अभिनेता जूनियर एनटीआर और राम चरण ने अवॉर्ड लिया और सभी को धन्यवाद दिया. अब ‘नाटु-नाटु’ के कोरियोग्राफर प्रेम रक्षित ने आजतक से बात करते हुए कहा कि इस अवॉर्ड के मिलने से काफी खुश हूं, कबी सोचा नहीं था, ऐसा भी होगा. मैं बस भगवान का शुक्रियादा कर सकता हूं, कि हमलोग की मेहनत रंग लाई. आज मेरा कॉन्फिडेंस कई गुना बढ़ गया है.

2 महीने में हुआ गाना कोरियोग्राफ

प्रेम रक्षित ने आगे कहा, साउथ के दो बड़े सुपरस्टार जूनियर एनटीआर और राम चरण के साथ काम करना काफी अच्छा था. दोनों साथ थे, तो मैंने सोचा कि इनसे कुछ अलग स्टेप्स करवाया जाए. नाटु-नाटु को कोरियोग्राफ करने में करीब दो महीने का समय लग गया. मैंने स्टार्स के लिए 110 मूव्स तैयार किए थे. दोनों की एनर्जी मैच होनी बहुत जरूरी थी, इसके लिए हमने दिन-रात मेहनत की और रिहर्सल रखा.

43 रीटेक्स के बाद हुआ गाने का शूट

गाने की रीटेक को लेकर बात करते हुए प्रेम ने कहा कि इस ब्लॉकबस्टर गाने को शूट करने में 20 दिन लग गए और इसमें 43 रीटेक्स आया, तब जाकर परफेक्शन मिली. गाने की शूटिंग यूक्रेन में हुई थी. जूनियर एनटीआर, राम चरण और अन्य शूटिंग के लिए दो सप्ताह तक कीव में रहे थे. विजय टेलीविजन को दिये एक इंटरव्यू के दौरान, जूनियर एनटीआर ने शिकायत की कि उन्हें और राम चरण को कई दिनों तक गाने के हुक स्टेप की प्रैक्टिस करनी पड़ी थी. दोनों की खूब पसीना बहाया था. अरविंद समेथा ने मजाक में कहा कि गाने की शूटिंग के दौरान राजामौली ने दोनों को खूब टॉर्चर किया किया था.

Continue Reading

Trending