Surya Gochar 2024 sun transit in cancer Shadashtak Yog bad effects of these zodiac sign be careful

Sun Transit 2024 in Cancer: ग्रहों के राजा सूर्य मंगलवार, 16 जुलाई 2024 को मिथुन राशि (Mithun Rashi) की यात्रा पूरी कर कर्क राशि (Kark) में प्रवेश करेंगे. सूर्य के एक राशि से दूसरे राशि में गोचर करने को संक्रांति के नाम से जाना जाता है. ऐसे में 16 जुलाई कर्क संक्रांति (Karka Sankranti 202) रहेगी.

किसी भी ग्रह के राशि परिवर्तन (Rashi Parivartan) का प्रभाव सभी राशियों पर पड़ता है. क्योंकि ज्योतिष के अनुसार जब भी किसी ग्रह का राशि या नक्षत्र परिवर्तन होता है तो इससे कई तरह के योग और युति का निर्माण होता है. 16 जुलाई को सूर्य के कर्क राशि में गोचर से षडाष्टक योग (Shadashtak Yog) का निर्माण होगा.

बता दें कि इस योग का निर्माण सूर्य और शनि (Shani) के कारण होगा. ज्योतिष में इस योग को बहुत ही अशुभ माना गया है. यह योग की लोगों में दुख, रोग, कर्ज, चिंता और कष्ट बढ़ाता है. ऐसे में सूर्य गोचर के बाद बनने वाले इस योग से कुछ राशियों को सावधान रहने की जरूरत है. इन्हें फूंक-फूंक कर कदम रखना होगा.

किन्हें रहना होगा सावधान?

  • कर्क राशि (Cancer): सूर्य गोचर के बाद सूर्य और शनि की युति से बनने वाले षडाष्टक योग का प्रतिकूल प्रभाव कर्क राशि वालों पर पड़ेगा, ऐसे में आपको बहुत सावधान रहने की जरूरत है. इस दौरान अपने सेहत और संबंधों का ध्यान रखें. अधिक तनाव वाली चीजों से बचें. कार्यक्षेत्र में जल्दबादी कार्य न करें, वरना इससे परेशानी बढ़ सकती है.
  • सिंह राशि (Leo): सूर्य के कर्क राशि में गोचर से सिंह राशि वाले जातकों की भी चिंताएं बढ़ सकती हैं. न्यायिक ममालों में बहुत सावधान होकर काम करें और इस दौरान कोई भी बड़ा निर्णय बहुत सोच-समझकर करें. नया काम करने के लिए भी समय अच्छा नहीं है.
  • धनु राशि (Sagittarius): आपको भी सूर्य गोचर के बाद विशेष सावधानी बरतने की जरूरत रहेगी. इस समय शत्रुओं से दूरी बनाकर रखें और किसी तरह के वाद-विवाद में न पड़े. वाहन चलाते समय सावधानी रखें और अपनी सेहत का ध्यान रखें.

ये भी पढ़ें: July Prediction: जुलाई में 4 बड़े ग्रह बदलेंगे अपनी चाल, ज्योतिषी ने जताई प्राकृतिक आपदा और अधिक बारिश की संभावना

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें. 

Read More at www.abplive.com