Disney Plus confirm that password sharing crackdown will start in June

Disney: डिज़्नी ने कुछ वक्त पहले इस बात का ऐलान किया था कि वो अपनी नई नीतियों को लागू करने के बाद यूज़र्स को पासवर्ड किसी अन्य यूज़र्स के साथ शेयर करने पर प्रतिबंध लगाएगा. अब डिज़्नी ने अपनी इस नीति को लागू करने का पूरा मन बना लिया है. 

नेटफ्लिक्स की राह पर चला डिज़्नी

डिज़्नी ने पुष्टि की है कि पासवर्ड-शेयरिंग पर कार्रवाई इस साल जून में शुरू होगी, जिसका लक्ष्य ग्राहकों की संख्या और कंपनी के मुनाफे में वृद्धि करना है. डिज़्नी अपने इस कदम के जरिए नेटफ्लिक्स के नक्शेकदम पर चलना शुरू कर रहा है. आपको बता दें कि नेटफ्लिक्स ने भी पिछले साल अपने यूज़र्स को पासवर्ड शेयर करने से रोक दिया था, जिसके बाद नेटफ्लिक्स में यूज़र्स की संख्या भी बढ़ी थी.

नेटफ्लिक्स द्वारा उठाए गए इस कदम का फायदा देखने के बाद अब डिज़्नी ने भी पासवर्ड शेयरिंग पर प्रतिबंध लगाने का ऐलान कर दिया है. डिज़्नी प्लेटफॉर्म यूज़ करने वाले यूज़र्स को अब यह जानना होगा कि वह अपने अकाउंट का पासवर्ड किसी अन्य इंसान से शेयर नहीं कर पाएंगे. शुरू होगा. सीएनबीसी के साथ एक इंटरव्यू में, डिज़नी के सीईओ बॉब इगर ने पासवर्ड-शेयरिंग पर रोक लगाने वाले कंपनी के नए प्लान का खुलासा किया. उन्होंने कहा कि डिज़्नी जून में पासवर्ड शेयर को रोकने वाले काम का पहला प्रयास करने की योजना बना रहा है. हालांकि, इसे शुरुआत में कुछ देशों में रोलआउट किया जाएगा. कंपनी इस साल सितंबर के महीने तक पासवर्ड शेयर क्रैकडाउन नियम को दुनियाभर के हरेक मार्केट तक पहुंचाने की योजना बना रही है.

जून से लागू होगा नया नियम

इससे पहले, डिज़्नी के मुख्य वित्तीय अधिकारी, ह्यूज जॉन्सटन ने खुलासा किया था कि अगर कंपनी को अनुचित शेयरिंग यानी घर के बाहर के लोगों को अकाउंट शेयर करने का संदेह होगा तो वह साइन अप करने के लिए एक संकेत भेजेगी. डिज़्नी ने सबसे पहले खुलासा किया था कि वह नेटफ्लिक्स की राह पर चलेगा और इस साल फरवरी में पासवर्ड-शेयरिंग के खिलाफ कार्रवाई शुरू करेगा. डिज़्नी के सीएफओ ह्यूज जॉन्सटन ने कहा, “हम अपनी शानदार कंटेंट को जितना हो सके उतने ज्यादा से ज्यादा दर्शकों तक पहुंचना चाहते हैं.”

अब देखना होगा कि डिज़्नी कब तक इस नए नियम को लागू करती है, और इस नए नियम का कितना असर पड़ता है. डिज़्नी के मुताबिक पासवर्ड शेयरिंग पर लगाम लगाने के बाद उनके ग्राहकों की संख्या बढ़ेगी और उनके कमाई में भी मुनाफा होगा.

यह भी पढ़ें:

OnePlus 13 में माइक्रो क्वॉड-कर्व्ड डिस्प्ले मिलने की उम्मीद, जानें इसकी डिटेल्स और खासियत

Read More at www.abplive.com