IMD Weather Forecast rainfall and heatwave condition accross several state in India know full details    

IMD Weather Forecast: भारत मौसम विज्ञान विभाग ने देश के कई राज्‍यों में आने वाले द‍िनों में बार‍िश और हीटवेव की स्‍थ‍िति की भव‍िष्‍यवाणी करते हुए पूर्वानुमान जारी क‍िया है. आईएमडी ने मौसम पूर्वानुमान में यह भी कहा कि देश के कुछ ह‍िस्‍सों में हल्‍की से मध्‍यम स्‍तर की बार‍िश होने के साथ कई जगहों पर अध‍िक तापमान रहने की संभावना है. खासकर मैदान इलाकों में लू चलने का अनुमान जताया है. 

आईएमडी की ओर से पहले ही आने वाले महीनों में कई राज्यों में भीषण गर्मी की चेतावनी भी दी गई थी. मौसम व‍िभाग ने आने वाले द‍िनों में देश के कई हिस्सों में सामान्य तौर पर 4 से 8 दिनों की तुलना में 10 से 20 हीटवेव वाले दिन होने की संभावना जताई है. 

मौसम व‍िभाग की बुलेट‍िन की माने तो 7 अप्रैल तक पश्चिम बंगाल, झारखंड, तेलंगाना, उत्तरी कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और ओडिशा के कुछ हिस्सों में अलग-अलग इलाकों में लू चलने की स्‍थ‍िति पैदा होगी. इन राज्‍यों के अलग-अलग ह‍िस्‍सों में रात के वक्‍त भी सामान्य से ज्‍यादा गर्मी पड़ने की संभावना जताई गई है. इससे लोगों को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. 

इसके अलावा मौसम व‍िज्ञान व‍िभाग ने यह भी पूर्वानुमान जताया है क‍ि 5 अप्रैल तक केरल, माहे, तमिलनाडु, पुडुचेरी, तटीय कर्नाटक, गंगीय पश्चिम बंगाल, ओडिशा और आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों में गर्मी रहने के साथ-साथ नमी के बने रहने की प्रबल संभावना है.  

पूर्वोत्तर राज्‍यों में होगी हल्‍की से मध्‍यम बार‍िश 

आईएमडी के मुताब‍िक कई राज्‍यों में हल्‍की से मध्‍यम बार‍िश होने से गर्मी से राहत रहेगी. पूर्वोत्तर भारत में 9 अप्रैल तक हल्की से मध्यम बारिश और गरज के साथ बार‍िश होने की संभावना है. खासकर अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा जैसे राज्यों में व्यापक रूप से हल्की से मध्यम बारिश होने का अनुमान जताया गया है.  

मनसुख मांडव‍िया ने राज्‍यों संग की थी र‍िव्‍यू मीट‍िंग
 
उधर, गर्मी के मौसम में संबंधित बीमार‍ियों से न‍िपटने की राज्‍यों की तैयार‍ियों को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया की ओर से प‍िछले द‍िनों र‍िव्‍यू मीटिंग की गई थी. सभी राज्‍यों व केंद्रशास‍ित प्रदेशों के मुख्‍य सच‍िवों को भी न‍िर्देश जारी क‍िए गए थे. राज्‍यों को मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अलर्ट मिलते ही समय पर उच‍ित कार्रवाई व प्रबंध करने के सख्‍त न‍िर्देश द‍िए गए थे.  

यह भी पढ़ें: CAA Rule: CAA पर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई एक और याचिका, जानें अब किसने की पक्षकार बनाने की मांग

Read More at www.abplive.com