Astrology these planets are responsible for divorce breakup seperation rahu shani ketu mangal

कई बार शादी के बाद पति पत्नी की नहीं बनती, लव मैरिज होने के बावजूद भी दोनों का एक साथ रहना मुश्किल हो जाता है,  छोटी मोटी बातें बड़ी बन जाती हैं और आपका रिश्ता टूटने की कागार पर आ जाता है. इन सब बातों की वजह होते हैं आपके ग्रह.

कई बार शादी के बाद पति पत्नी की नहीं बनती, लव मैरिज होने के बावजूद भी दोनों का एक साथ रहना मुश्किल हो जाता है, छोटी मोटी बातें बड़ी बन जाती हैं और आपका रिश्ता टूटने की कागार पर आ जाता है. इन सब बातों की वजह होते हैं आपके ग्रह.

आपके ग्रह बहुत हद तक जिम्मेदार होते हैं आपकी शादी को तोड़ने में. आपका ब्रेक-अप और डाइवोर्स आपको ग्रहों से जुड़ा होता है. ब्रेक-अप (Break-Up), तलाक और सेपेरेशन(Seperation) इन सभी के तार ग्रहों से जा मिलते हैं.

आपके ग्रह बहुत हद तक जिम्मेदार होते हैं आपकी शादी को तोड़ने में. आपका ब्रेक-अप और डाइवोर्स आपको ग्रहों से जुड़ा होता है. ब्रेक-अप (Break-Up), तलाक और सेपेरेशन(Seperation) इन सभी के तार ग्रहों से जा मिलते हैं.

अगर दो शादीशुदा व्यक्तियों की आपस में नहीं बन रही, हमेशा अनबन या कलेश  की स्थ्ति बनी रहती है तो इसका कारण राहु, केतु, शनि और मंगल ग्रह हैं. राहु, केतु, शनि और मंगल ये चारों ग्रहों को तलाक का कारक माना गया है.

अगर दो शादीशुदा व्यक्तियों की आपस में नहीं बन रही, हमेशा अनबन या कलेश की स्थ्ति बनी रहती है तो इसका कारण राहु, केतु, शनि और मंगल ग्रह हैं. राहु, केतु, शनि और मंगल ये चारों ग्रहों को तलाक का कारक माना गया है.

कुंडली में 8वां और 12वां भाव भी तलाक के लिए अहम भूमिका निभाते हैं. ज्योतिष शास्त्र में शुक्र को पति-पत्नी के बीच के संबंध को जोड़े रखने वाला ग्रह माना जाता है. शुक्र ग्रह शादीशुदा लाइफ में होने वाले क्लेश और तलाक से भी जुड़ा है. अगर आपका शुक्र कमजोर है को शादी और तलाक में बेवफाई या अलग होने के कारण बन सकते हैं.

कुंडली में 8वां और 12वां भाव भी तलाक के लिए अहम भूमिका निभाते हैं. ज्योतिष शास्त्र में शुक्र को पति-पत्नी के बीच के संबंध को जोड़े रखने वाला ग्रह माना जाता है. शुक्र ग्रह शादीशुदा लाइफ में होने वाले क्लेश और तलाक से भी जुड़ा है. अगर आपका शुक्र कमजोर है को शादी और तलाक में बेवफाई या अलग होने के कारण बन सकते हैं.

राहु, शनि क्रूर ग्रह हैं. ये दोनों ग्रह अशांति पैदा करते हैं. मंगल और राहु अगर एक साथ आते हैं तो इंसान भोगी बनता है. इससे लाइफ में परेशानियां आने लगती है.शनि और राहु की युति से पिशाच योग बनता है. ज्योतिष शास्त्र में इसे महाविनाशकारी माना जाता है.

राहु, शनि क्रूर ग्रह हैं. ये दोनों ग्रह अशांति पैदा करते हैं. मंगल और राहु अगर एक साथ आते हैं तो इंसान भोगी बनता है. इससे लाइफ में परेशानियां आने लगती है.शनि और राहु की युति से पिशाच योग बनता है. ज्योतिष शास्त्र में इसे महाविनाशकारी माना जाता है.

Published at : 04 Apr 2024 07:00 PM (IST)

ऐस्ट्रो फोटो गैलरी

ऐस्ट्रो वेब स्टोरीज

Read More at www.abplive.com