सुशील मोदी के साथ और किन नेताओं को हुआ था कैंसर, कुछ ने मौत को दी मात तो…

Indian Politician Cancer News : बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी कैंसर से पीड़ित हैं। पार्टी ने उन्हें स्टार प्रचार और इलेक्शन मेनिफेस्टो कमेटी का सदस्य बनाया था, लेकिन वे लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार कार्यक्रमों में शामिल नहीं हो सकेंगे। 72 वर्षीय सुशील कुमार मोदी ने कहा कि छह महीने पहले ही उन्हें कैंसर की बात चली है। सुशील मोदी से पहले भी कई नेताओं कैंसर से पीड़ित हो चुके हैं। आइए जानते हैं कि किन-किन नेताओं को लड़नी पड़ी थी कैंसर से जंग।

शरद पवार : महाराष्ट्र के दिग्गज नेता शरद पवार को मुंह में कैंसर हुआ था, लेकिन 20 साल पहले वे इस बीमारी को मात देने में सफल रहे। अब शरद पवार राजनीति में सक्रिय हैं।

यशवंत सिन्हा : साल 2006 में पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा को लिम्फोमा था, जो एक तरह का कैंसर था। वे इलाज से पूरी तरह ठीक हो गए।

यह भी पढ़ें : ‘अर्थी उठेगी पूर्णिया से और लिपटेगी कांग्रेस के झंडे में’, RJD पर जमकर बरसे पप्पू यादव

चंद्रशेखर : देश के पूर्व पीएम चंद्रशेखर बोन कैंसर से पीड़ित थे। उनका साल 2007 में निधन हो गया था।

भैरो सिंह शेखावत : राजस्थान के पूर्व सीएम और देश के पूर्व उपराष्ट्रपति भैरो सिंह शेखावत को भी गर्दन का कैंसर था, जिससे उनका साल 2010 में निधन हो गया था।

मनोहर पर्रिकर : गोवा के पूर्व सीएम मनोहर पर्रिकर भी अग्नाशय के कैंसर से पीड़ित थे। उन्होंने अमेरिका में भी अपना इलाज कराया, लेकिन वे कैंसर से जंग में हार गए। उनका साल 2019 में निधन हो गया।

अनंत कुमार : पूर्व केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार भी कैंसर से पीड़ित थे। उन्होंने भी यूएस में अपना उपचार किया, लेकिन वे इस बीमारी को मात नहीं दे पाए और उनका साल 2018 में निधन हो गया।

यह भी पढ़ें : ‘बेटी कहने में शर्म आती है’, संघमित्रा पर क्या बोले स्वामी प्रसाद मौर्य

राम नाईक : 60 साल की उम्र में यूपी के पूर्व राज्यपाल राम नाईक को कैंसर हुआ था। साल में 1993-94 में उन्होंने मुंबई के टाटा मेमोरियल अस्पताल में अपना उपचार कराया और वे कैंसर से जंग जीत गए।

वीपी सिंह : देश के पूर्व पीएम वीपी सिंह को खून के कैंसर और किडनी की समस्या थी। उनका साल 2008 में निधन हो गया।

Read More at hindi.news24online.com