Aaj Ka Panchang 3 april 2024 Muhurat yoga Rahu Kaal time Tithi Grah Nakshatra

Today Panchang, Aaj Ka Panchang 3 april 2024: पंचांग के अनुसार 3 अप्रैल 2024 आज चैत्र माह के कृष्ण पक्ष की नवमी तिथि है. साथ ही गौरी पुत्र गणपति का दिन बुधवार है. इस दिन ॐ गं क्षिप्रप्रसादनाय नम: मंत्र का जाप करें और भगवान गणेश को केले का भी भोग लगाएं. कहते हैं गणपति जी कि कृपा से व्यक्ति की सारी परेशानियां दूर हो जाती है. ज्ञान, बुद्धि और सुख-समृद्धि में वृद्धि होती है.

आज के दिन घर में सिंदूर गणेश, चांदी के गणपति लाना बेहद शुभ होता है. गणपति की बैठी हुई मुद्रा और बाईं ओर झुकी हुई सूंड वाले गणेश जी को सबसे ज्यादा शुभ माना जाता है. इनके घर में होने से कभी कार्यों में अड़चने नहीं आते, रोग, दोष नहीं होते. आइए जानते हैं आज का शुभ-अशुभ मुहूर्त, राहुकाल, शुभ योग, ग्रह परिवर्तन, व्रत-त्योहार, तिथि आज का पंचांग (Panchang in Hindi)

3 अप्रैल 2024 का पंचांग

तिथि नवमी (2 अप्रैल 2024, रात 08.08 – 3 अप्रैल 2024, शाम 06.29)
पक्ष कृष्ण
वार बुधवार
नक्षत्र उत्तराषाढ़ा
योग शिव
राहुकाल दोपहर 12.24 – दोपहर 01.58
सूर्योदय सुबह 06.09 – शाम 06.40
चंद्रोदय प्रात: 03.09 – दोपहर 12.41, 4 अप्रैल
दिशा शूल
उत्तर
चंद्र राशि
मकर
सूर्य राशि मीन

3 अप्रैल 2024 शुभ मुहूर्त (Shubh Muhurat)

ब्रह्म मुहूर्त सुबह 04.37- सुबह 05.23
अभिजित मुहूर्त कोई नहीं
गोधूलि मुहूर्त शाम 06.39 – शाम 07.02
विजय मुहूर्त दोपहर 02.30 – दोपहर 03.20
अमृत मुहूर्त
दोपहर 03.40 – शाम 05.12
निशिता काल मुहूर्त प्रात: 12.01 – दोर रात 12.47, 4 अप्रैल

3 अप्रैल 2024 अशुभ मुहूर्त (Aaj Ka Ashubh Muhurat)

  • यमगण्ड – सुबह 07.43 – सुबह 09.17
  • गुलिक काल – सुबह 10.50 – दोपहर 12.25
  • अडाल योग – शाम 04.06 – रात 11.18
  • विडाल योग – रात 11.18 – सुबह 06.07, 4 अप्रैल

आज का उपाय

बुधवार के दिन 21 दूर्वा को मिलाकर एक लाल धागे या फिर कलावे से बांध लें और उसे गणपति जी की प्रतिमा के पास रख दें. अगले बुधवार तक इसकी पूजा करें और फिर जल में प्रवाहित कर दें. कहते है इससे हर समस्या दूर्वा के साथ चली जाती है.

Chaitra Purnima 2024 Date: चैत्र पूर्णिमा 2024 में कब ? सही तारीख, स्नान-पूजा मुहूर्त जान लें

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.

Read More at www.abplive.com