Chaitra Navratri 2024 when is first fast or vrat of navratri know niyam of vrat and tithi

Chaitra Navratri 2024: चैत्र नवरात्रि जल्द ही शुरू होने वाले हैं. चैत्र नवरात्रि 9 अप्रैल से शुरू हो रहे हैं. हर साल चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिप्रदा तिथि से चैत्र नवरात्र की शुरूआत होती है. ऐसी मान्यता है जो भक्त इस व्रत को पूरी श्रद्धा भाव के साथ करता है, उसे शुभ फल की प्राप्ति होती है.

मां दुर्गा के पवित्र नवरात्रि साल 2024 में 9 अप्रैल से शुरू हो रहे हैं. इस दिन से लोग घर में विशेष घटस्थापना करते हैं और नवरात्रि की शुरूआत करते हैं. इस दिन कलश स्थापना या घटस्थापना का विशेष महत्व होता है.

चैत्र नवरात्रि साल 2024 में 9 अप्रैल से 17 अप्रैल तक चलेंगे. इस दौरान मां दुर्गा के व्रत रखें जाएंगे और उनकी अखंड ज्योत जलाई जाएगी. 16 अप्रैल, मंगलवार के दिन अष्टमी मनाई जाएगी, वहीं 17 अप्रैल को राम नवमी के साथ व्रत का समापन होगा.

चैत्र नवरात्रि तिथियां- (Chaitra Navratri Date And Tithi)

1.चैत्र नवरात्रि प्रतिपदा तिथि व्रत 9 अप्रैल 2024 – मां शैलपुत्री की पूजा

2.चैत्र नवरात्रि द्वितीया तिथि व्रत 10 अप्रैल 2024 – मां ब्रह्मचारिणी की पूजा

3.चैत्र नवरात्रि तृतीया तिथि व्रत 11 अप्रैल 2024 – मां चंद्रघंटा की पूजा

4.चैत्र नवरात्रि चतुर्थी तिथि व्रत 12 अप्रैल 2024 – मां कुष्माण्डा की पूजा

5.चैत्र नवरात्रि पंचमी तिथि व्रत 13 अप्रैल 2024 – मां स्कंदमाता की पूजा

6.चैत्र नवरात्रि षष्ठी तिथि व्रत 14 अप्रैल 2024 – मां कात्यायनी की पूजा

7.चैत्र नवरात्रि सप्तमी तिथि व्रत 15 अप्रैल 2024 – मां कालरात्री की पूजा

8.चैत्र नवरात्रि अष्टमी तिथि व्रत 16 अप्रैल 2024 – मां महागौरी की पूजा, अष्टमी पूजन

9.चैत्र नवरात्रि नवमी तिथि व्रत 17 अप्रैल 2024 – मां सिद्धिदात्री की पूजा, नवमी पूजन

पहले दिन नवरात्रि नियम (Navratri 2024 First Day Niyam)

  • नवरात्रि के पहले दिन शुभ मुहूर्त में कलश स्थापना करें या घटस्थापना करें और व्रत का संकल्प लें. 
  • पूरे 9 दिनों तक मां दुर्गा की पूजा की करें और अखंड ज्योत जलाएं.
  • इस दौरान लहसुन, प्याज का सेवन नहीं करना चाहिए.
  • किसी से लड़ाई, द्वेष ना करें.
  • अपनी वाणी को मधुर रखें और से अपशब्द ना कहें.

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.

Read More at www.abplive.com