Shani Pradosh Vrat 2024 Date Time auspicious yoga

Shani Pradosh Vrat 2024: अप्रैल में पहली त्रोयदशी तिथि शनिवार के दिन पड़ रही है, जिसे बहुत खास माना जा रहा है. ऐसे में अप्रैल में साल 2024 का पहला शनि प्रदोष व्रत पड़ रहा है.  इस व्रत को करने से शिव शंभू के साथ शनि देव भी प्रसन्न होते हैं और कुंडली से शनि की महादशा से राहत मिलती है.

इस बार 6 अप्रैल को शनि प्रदोष व्रत पड़ रहा है, खास बात ये है इस दिन कई दुर्लभ योग का संयोग बन रहा है. जिससे व्रती को कई गुना लाभ मिलेगा. आइए जानते हैं.

शनि प्रदोष व्रत 2024 शुभ योग (Shani pradosh vrat 2024 shubh yoga)

6 अप्रैल 2024 को शनि प्रदोष वाले दिन शुभ और शुक्ल योग का संयोग बन रहा है. बुध-गुरु मेष राशि में होंगे. शुक्र-सूर्य मीन राशि में विराजमान हैं. शनि और मंगल की युति कुंभ राशि में बनेगी.

  • शुभ योग – 05 अप्रैल 2024, सुबह 09:56 – 06 अप्रैल 2024, सुबह 06:15
  • शुक्ल योग – 06 अप्रैल 2024, सुबह 06:15 – 07 अप्रैल 2024, प्रात: 02.20

शनि प्रदोष व्रत 2024 शुभ मुहूर्त (Shani Pradosh Vrat 2024 Time)

इस बार चैत्र माह के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि की शुरुआत 06 अप्रैल 2024 को सुबह 10 बजकर 19 मिनट से होगी.इसका समापन 07 अप्रैल को सुबह 06 बजकर 53 मिनट पर होगा.

  • पूजा समय – शाम 06.42 – रात 08.58

शनि प्रदोष व्रत महत्व (Shani Pradosh vrat Significance)

शनि प्रदोष व्रत करने से भगवान शिव के साथ शनि महाराज भी प्रसन्न होते हैं. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, जो लोग संतानहीन हैं, उनको विशेषकर शनि प्रदोष व्रत करना चाहिए. भगवान शिव की कृपा से व्यक्ति को पुत्र की प्राप्ति होती है. शनि प्रदोष व्रत करने से मनुष्य को लंबी आयु के साथ सुख-समृद्धि की भी प्राप्ति होती है.अंत में भक्त सभी संकटों से पार पाकर मोक्ष को प्राप्त करता है.

शनि प्रदोष पूजा विधि (Shani Puja vidhi)

शनि प्रदोष व्रत के दिन सुबह पीपल वृक्ष पर जल अर्पित करें और पांच तरह के मिषठान का भोग लगाएं. शाम को पांच तेल के दीपक लगाएं और 7 बार पीपल की परिक्रमा करें. मान्यता है इससे शनि दोष के कारण नौकरी में आ रही बाधाएं दूर होंगी. शाम को शिवलिंग का अभिषेक करें. सवा किलो काले चने कुष्ट रोगी में बांट दें. ऐसा करना संभव नहीं हो तो शनि मंदिर में काले चने दान कर दें. ये हर पीड़ा से मुक्ति दिलाता है.

Papmochani Ekadashi 2024: एकादशी व्रत में इन 5 गलतियों के कारण पुण्य की जगह लगता है पाप

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.

Read More at www.abplive.com