मुख्तार की मौत पर बोले स्वामी प्रसाद, न्यायपालिका को दरकिनार कर यूपी को अराजकता के रास्ते पर आगे बढ़ा रही है योगी सरकार

गाजीपुर। मृतक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के भाई अफ़ज़ाल अंसारी (Afzal Ansari) से मुलाकात करने पहुंचे राष्ट्रीय शोषित समाज पार्टी के अध्यक्ष स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya)  ने कहा कि जिस तरह से सरकारी तंत्र ने सारी नैतिकता को ताक पर रखकर उनके (Mukhtar Ansari) साथ घटिया काम किया, वो निंदनीय है। जो काम न्यायपालिका को करना चाहिए, आज सरकारी तंत्र खुद सरकारी गुंडा तंत्र के बल पर कर रही है।

पढ़ें :- स्वामी प्रसाद मौर्य की पार्टी दो उम्मीदवारों के नामों का किया ऐलान, खुद कुशीनगर लोकसभा सीट से ठोकेंगे ताल

हम अपराधी हैं या नहीं है। ये फैसला न्यायपालिका को करना होता है, लेकिन आज न्यायपालिका को भी दरकिनार कर से उत्तर प्रदेश की सरकार अराजकता के रास्ते पर आगे बढ़ा रही है। कानून नाम की कोई चीज नहीं रह गई है। जहर देकर उन्हें (Mukhtar Ansari) मारने का जो आरोप था वो सच साबित हुआ। वे पूरी तरह से अस्वस्थ थे, सरकारी तंत्र के दबाव में उन्हें स्वस्थ बताकर जेल भेजा गया।

बता दें कि आरएएसपी (RASP)के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya)  रविवार को माफिया और पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari)  के घर पहुंचे थे। गाजीपुर में मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari)  के घर पहुंचकर स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya)  ने परिजनों को सांत्वना दी थी। इस मौके पर दिवंगत मुख्तार अंसारी के बड़े भाई और सांसद अफजाल अंसारी (MP Afzal Ansari) और मुख्तार के बेटे वहां मौजूद थे। इस मौके पर बड़ी संख्या में मुख्तार के रिश्तेदार और मीडियाकर्मियों का वहां जमावड़ा रहा।

Read More at hindi.pardaphash.com