सीताराम येचुरी के बैठते ही अपनी सीट क्यों बदल लिए डेरेक ओ ब्रायन?

Sitaram Yechuri Derek O’Brien:  दिल्ली के रामलीला ग्राउंड में आज विपक्ष की महारैली हुई। इस रैली में I.N.D.I.A ब्लॉक के नेता शामिल हुए। यह रैली दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद हुई। रैली में शामिल विपक्षी नेताओं ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला और केंद्रीय एजेंसियों के दुरुपयोग का आरोप लगाया। इस दौरान एक अजीब वाकया देखने को मिला। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के नेता सीताराम येचुरी जब तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओ ब्रायन के बगल में बैठते हैं तो ब्रायन तुरंत अपनी सीट बदल देते हैं और पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती के बगल में जाकर बैठ जाते हैं।

येचुरी के बैठते ही अपनी सीट छोड़ देते हैं ब्रायन

दरअसल, सीताराम येचुरी की सीट डेरेक ओ ब्रायन के बगल में थी। जैसे ही येचुरी आकर ब्रायन के बगल वाली सीट में बैठते हैं, वे अपनी सीट छोड़कर चले जाते हैं। माकपा और टीएमसी बंगाल में एक-दूसरे की कट्टर विरोधी हैं। माकपा के सियासी वर्चस्व को खत्म कर ममता बनर्जी बंगाल की मुख्यमंत्री बनी हैं। यही वजह है कि ब्रायन अपने बगल वाली सीट पर येचुरी के बैठते ही असहज महसूस करने लग जाते हैं और उठकर चले जाते हैं, ताकि किसी तरह का कोई गलत मैसेज लोगों के बीच में न जाए।

‘INDIA गठबंधन का हिस्सा है TMC’

महारैली को संबोधित करते हुए टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस (TMC) ‘इंडिया’ गठबंधन का हिस्सा थी, है और रहेगी। उन्होंने कहा कि यह बीजेपी बनाम लोकतंत्र की लड़ाई है।

यह भी पढ़ें: अरविंद केजरीवाल की जेल से आई एक और चिट्ठी, सुनीता ने पढ़कर सुनाया

‘भारत की राजनीति में आज एक नई ऊर्जा का जन्म हुआ’

दिल्ली के रामलीला मैदान में महारैली को संबोधित करते हुए माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा कि भारत की राजनीति में आज एक नई ऊर्जा का जन्म हुआ है। आज यहां आजादी का नारा बुलंद हो रहा है। यह हमारी स्वतंत्रता है कि हमारा संविधान और हमारा गणतंत्र सुरक्षित है। हम यह आजादी हासिल करेंगे।

महागठबंधन की रैली में कौन-कौन नेता शामिल हुए?

महागठबंधन की रैली में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी, सोनिया गांधी, मल्लिकार्जुन खरगे, एनसीपी-एससीपी प्रमुक शरद पवार, राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, नेशनल कांफ्रेंस के फारूक अब्दुल्ला, शिवसेना (यूबीटी) के प्रमुख उद्धव ठाकरे, अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल और झामुमो नेता हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन समेत कई नेता शामिल हुए। सुनीता और सोनिया गांधी की सीट अगल-बगल में थी।

यह भी पढ़ें: Breaking News Live: मोदी-BJP के खिलाफ एक और गठबंधन, ओवैसी का बड़ा ऐलान

Read More at hindi.news24online.com